फिक्की एफएलओ ने महिला उद्यमियों को सशक्त करने के लिए सिलीगुड़ी चैप्टर लांच

नई दिल्ली/सिलीगुड़ी, भारत के शीर्ष कारोबारी चैंबर फिक्की की महिला शाखा फिक्की लेडीज़ ऑर्गनाइजेशन (एफएलओ) ने पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में अपना 20वां चैप्टर लांच किया। सिलीगुड़ी चैप्टर की लांचिंग से पूरे भारत में महिला उद्यमियों और पेशेवरों को सशक्त करने के एफएलओ के मिशन को मजबूती मिलेगी और पूर्वोत्तर क्षेत्र में आर्थिक वृद्धि एवं विकास को गति मिलेगी।
एफएलओ ने पूर्वोत्तर भारत के एक द्वार के तौर पर सिलीगुड़ी के रणनीतिक स्थान और इसकी तेज आर्थिक वृद्धि की वजह से इसे चुना है। सिलीगुड़ी पश्चिम बंगाल में एफएलओ का दूसरा चैप्टर है। इस शहर का गतिशील कारोबारी वातावरण और यहां की महिला उद्यमियों की ओर से मिली जबरदस्त प्रतिक्रिया ने इसे विस्तार के लिए एक स्वभाविक पसंद बनाया। सिलीगुड़ी में कोर्टयार्ड मैरियट में शनिवार 18 मई, 2024 को एक शानदार लांचिंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें राज्यसभा सांसद और तृणमूल कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुश्री सुष्मिता देव मुख्य अतिथि रहीं, जबकि विशिष्ट अतिथियों में सिलीगुड़ी नगर निगम की आयुक्त सुश्री शेरिंग वाई भूटिया और अंतरराष्ट्रीय साड़ी ड्रेप आर्टिस्ट सुश्री डॉली जैन शामिल रहीं। अन्य प्रमुख हस्तियों में एफएलओ की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुश्री जॉयश्री दास वर्मा, एफएलओ सिलीगुड़ी की नामित चेयरपर्सन सुश्री निहारिका मित्रुका और एफएलओ की पूर्व अध्यक्ष सुश्री विनिता बिमभेट, सुश्री जयंती डालमिया और एफएलओ के राष्ट्रीय संचालन निकाय के अन्य सदस्य शामिल रहे। राज्यसभा सांसद और तृणमूल कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुश्री सुष्मिता देव ने कहा, “महिलाओं का सशक्तिकरण संख्या से परे है। बिना अधिकार और निर्णय क्षमताओं के उनकी भूमिका महज सजावटी रहती है। सही मायने में समानता का अर्थ है समान अधिकारों तक पहुंच। नेटवर्किंग इस सशक्तिकरण प्रक्रिया में एक अहम भूमिका निभाती है। फिक्की और एफएलओ जैसे संगठन इन महत्वपूर्ण नेटवर्कों के निर्माण और सुगम बनाने में महत्वपूर्ण हैं जो जुड़ने, गठबंधन करने और एक दूसरे के विकास में सहयोग के लिए मंच उपलब्ध कराते हैं।” सिलीगुड़ी नगर निगम की आयुक्त सुश्री शेरिंग वाई भूटिया ने कहा, “श्रम बाजार और नौकरी के बाजार का उद्भव इस प्रकार से होना चाहिए जिससे समावेशी एवं विविध अवसर विशेषकर महिलाओं के लिए पैदा हों। घर और कार्यस्थल पर महिलाओं की भूमिका के बीच एक संतुलन बनाना महत्वपूर्ण है और इसके लिए काम और जीवन में तालमेल पर ध्यान देना आवश्यक है।” अंतरराष्ट्रीय साड़ी ड्रेप आर्टिस्ट सुश्री डॉली जैन महज 18.5 सेकेंड में एक साड़ी ड्रेप कर सकती हैं और उन्होंने 125 अलग अलग तरीकों से एक साड़ी को ड्रेप करने के लिए लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में नाम दर्ज कराया है। बाद में उन्होंने अन्य रिकॉर्ड्स के लिए यह संख्या बढ़ाकर 325 की। एक गृहणी से लेकर एक सेलेब्रिटी ड्रेप आर्टिस्ट और इस उद्योग में एक प्रख्यात नाम होने की अपने प्रेरणादायी दास्तां सुनाते हुए उन्होंने कहा, “लीक से हटकर सोचना महिलाओं के लिए महत्वपूर्ण है और ऐसी कोई चीज़ नहीं जो उन्हें आगे बढ़ने से रोक सके। इसकी एक ही कुंजी है और वह है जुनून, दृढ़ता और कठिन मेहनत। इन खूबियों के साथ महिलाएं क्या कुछ हासिल कर सकती हैं, इसकी कोई सीमा नहीं और वह जीवन के हर क्षेत्र में अपनी खास पहचान बना सकती हैं।” महिला उद्यमियों को सहयोग करने की इस संगठन की प्रतिबद्धता रेखांकित करते हुए फिक्की एफएलओ की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुश्री जॉयश्री दास वर्मा ने कहा, “फिक्की एफएलओ का सिलीगुड़ी में विस्तार, टियर-2 और टियर-3 शहरों समेत पूरे भारत में महिलाओं के सशक्तिकरण की हमारी यात्रा में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। एफएलओ महिलाओं को आवश्यक संसाधन, मार्गदर्शन और नेटवर्किंग अवसर उपलब्ध कराने के लिए समर्पित है जिससे उन्हें अपनी उद्यमशीलता की यात्रा में सफल होने में मदद मिल सके। सिलीगुड़ी अपनी समृद्ध उद्यमी भावना के साथ महिलाओं के लिए उत्कृष्टता हासिल करने और उस क्षेत्र की आर्थिक वृद्धि में योगदान करने के लिए जबरदस्त संभावनाएं प्रस्तुत करता है। हमें भरोसा है कि यह सिलीगुड़ी चैप्टर ना केवल सिलीगुड़ी, बल्कि पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र में आर्थिक सशक्तिकरण एवं लिंग समानता के लिए एक उत्प्रेरक के तौर पर काम करेगा।” उन्होंने आगे कहा, “एफएलओ आकांक्षी महिला उद्यमियों और संभावित कारोबारी नेताओं के लिए समर्पित है। हम गृहणियों को सफल उद्यमी बनाने और मौजूदा उद्यमियों को नई ऊंचाइयों पर ले जाने की संभावना में विश्वास करते हैं। एक बिजनेस चैंबर के तौर पर हम उन्हें प्रशिक्षण, मार्गदर्शन, नेटवर्किंग अवसर और वित्तीय एवं प्रौद्योगिकीय सहयोग तक पहुंच सहित सभी संभव संसाधन उपलब्ध कराते हैं। हमारी पहल के जरिए हमारा लक्ष्य महिलाओं को उनके उद्यमी लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए सशक्त बनाना है जिससे वे हमारे समाज के आर्थिक विकास में योगदान कर सकें।” एफएलओ सिलीगुड़ी चैप्टर की नामित चेयरपर्सन सुश्री निहारिका मित्रुका ने कहा, “एफएलओ के विभिन्न कार्यक्रम और पहल का लक्ष्य इस कारोबारी दुनिया में फलने फूलने के लिए महिलाओं के लिए एक अनुकूल वातावरण का निर्माण करना है। यह नया सिलीगुड़ी चैप्टर इस क्षेत्र में महिला उद्यमियों के लिए एक उपयुक्त मंच के तौर पर काम करेगा जहां वे एक दूसरे से जुड़ सकेंगे, गठबंधन कर सकेंगी और संसाधनों तक उनकी पहुंच स्थापित हो सकेगी जिससे वे अपने कारोबार को आगे बढ़ा सकेंगी।” इस आयोजन में पूर्व अध्यक्ष विनिता बिमभेट और जयंती डालमिया के साथ ही नेशनल गवर्निंग बॉडी के सदस्य, चेयरपर्सन, पूर्व चेयरपर्सन और देशभर से अन्य सदस्यों समेत बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। सौ से अधिक उद्यमी, पेशवर और आकांक्षी उद्यमी इस लांचिंग आयोजन का हिस्सा बने। अपनी 40 वर्षों की विरासत के साथ फिक्की एफएलओ महिला सशक्तिकरण, उद्यमशीलता विकास और पेशेवर उत्कृष्टता बढ़ाने के मोर्चे पर सबसे आगे रहा है। दिल्ली और देशभर में 19 चैप्टरों में 11,000 सदस्यों के साथ सिलीगुड़ी के 20वें चैप्टर के तौर पर जुड़ना एफएलओ की यात्रा में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। कोलकाता के बाद यह पश्चिम बंगाल में दूसरा चैप्टर है। विभिन्न आयोजनों, कार्यशालाओं और मार्गदर्शन कार्यक्रमों के जरिए इस चैप्टर का लक्ष्य महिलाओं को चुनौतियों से पार पाने, अवसरों का लाभ उठाने और अपने उद्यमी उपक्रमों में सफलता हासिल करने में उन्हें सशक्त बनाना है। FCCI

Comments

Popular posts from this blog

फिल्म फेयर एंड फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स रंगारंग कार्यक्रम

कार्ल ज़ीस इंडिया ने उत्तर भारत में पहले अत्याधुनिक ज़ीस विज़न सेंटर का शुभारंभ

फीनिक्स पलासियो में 'एट' स्वाद के शौकीनों का नया रोचक डाइनिंग एक्सपीरियंस