टैली सोल्युशन्स लखनऊ में 10 करोड़ टर्नओवर वाले एमएसएमई को ई-इनवॉयसिंग अपनाने में देगा सहयोग

लखनऊ, 10 करोड़ एवं इससे अधिक टर्नओवर वाले जीएसटी रजिस्टर्ड बिज़नसेज़ के लिए ई-इनवॉसिंग को अपनाने की अंतिम दिनांक करीब आ रही है, ऐसे में टैली सोल्युशन्स, पूरी तरह से कनेक्टेड सोल्युशन ज्ंससलच्तपउम के साथ उन्हें ई-इनवॉयसिंग को अपनाने एवं इसके प्रबन्धन में मदद करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। कंपनी लखनऊ के बिज़नसेज़ को इसके बारे में हर ज़रूरी जानकारी देने के लिए पूरे प्रयास कर रही है, ताकि ये बिज़नसेज़ कम्प्लायन्ट बने रहें।
लखनऊ के एमएसएमई (लघु एवं मध्यम उद्यमों) के लिए 360 डिग्री कैंपेन की शुरूआत की गई है, जिससे सैंकड़ों बिज़नसेज़ को ई-इनवॉयसिंग, ई-वे बिल, ऑडिट ट्रेल आदि को समझने में मदद मिलेगी, वह जान सकेंगे कि किस तरह टेक्नोलॉजी के ज़रिए वे आसानी से ई-इनवॉयसिंग को अपना सकते हैं और साथ ही साथ अपने बिज़नेस की उत्पादकता में सुधार ला सकते हैं। कंपनी स्थानीय टेªड एसोसिएशन्स एवं अन्य प्रतिभागियों के साथ मिलकर कई कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है, ताकि उन्हें ई-इनवॉयसिंग के बारे में जागरुक बनाया जा सके। इसके अलावा यह ज़्यादा से ज़्यादा बिज़नसेज़ तक पहुंचने के लिए कंटेंट क्रिएटर्स के साथ काम कर रही है और विषय विशेषज्ञों के साथ मिलकर वेबिनार भी आयोजित कर रही है। कंपनी ने अपने कर्मचारियों एवं 28,000 से अधिक पार्टनर्स को प्रशिक्षित किया है, ताकि बिज़नसेज़ को सभी टचपॉइन्ट्स के ज़रिए सही जानकारी मिले। कंपनी अपनी कस्टमर सपोर्ट टीम ज्ंससलब्ंतम के माध्यम से भी बिज़नसेज़ को हर ज़रूरी सहयोग प्रदान करने के लिए तत्पर हैं, इसके तहत उन्हें आसान व्हाट्सऐप सहयोग भी उपलब्ध कराया जाएगा। इस पहल के बारे में बात करते हुए अर्चन मुखर्जी, जनरल मैनेजर- ईस्ट ज़ोन, टैली सोल्युशन्स ने कहा, ‘‘भारत सरकार ने 1 अक्टूबर से 10 करोड़ एवं इससे अधिक टर्नओवर वाले बिज़नसेज के लिए ई-इनवॉयसिंग अपनाना ज़रूरी कर दिया है, यह बिज़नसेज़ के डिजिटलीकरण की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है। ई-इनवॉयसिंग के पांचवें चरण के तहत 4.8 लाख से ज़्यादा बिज़नसेज़ ई-इनवॉयसिंग के दायरे में आ जाएंगे, जिनमें से 2.3 लाख से अधिक बिज़नसेज़ 1 अक्टूबर से ई-इनवॉयसिंग का अनुपालन शुरू कर दंेंगे। यह ज़रूरी है कि वे ई-इनवॉयसिंग के अनुसार कामकाज के नए तरीकों को समझें और जानें कि किस तरह टेक्नोलॉजी की मदद से वे अपने बिज़नेस को कम्प्लायन्ट बना सकते हैं। लखनऊ हमारे लिए प्रमुख क्षेत्रों में से एक है और हम हज़ारों बिज़नसेज़ को ई-इनवॉयसिंग में कम्प्लायन्ट बनाने के लिए प्रयासरत हैं। हमारे 360-डिग्री कैंपेन में यह भी दर्शाया जा रहा है कि किस तरह टैली के मार्की सॉफ्टवेयर ज्ंससलच्तपउम की मदद से वे बड़ी आसानी से एक क्लिक करते ही ई-इनवॉयस जनरेट कर सकते हैं।’’ ई-इनवॉयसिंग के पहले चरणों के दौरान टैली ने ऊँचे टर्नओवर वाले बिज़नसेज को ई-इनवॉयसिंग अपनाने में मदद की है और अब 10 करोड़़ से अधिक टर्नओवर वाले बिज़नसेज़ को इस बदलाव में सहयोग प्रदान करने के लिए तैयार है। पहले से ऊँचे टर्नओवर वाले बिज़नसेज़ की ई-इनवॉयस संबंधी ज़रूरतों को पूरा कर रहा है और अब बड़े पैमाने पर बिज़नेस कम्युनिटी की सहायता के लिए पूरी तरह से तैयार है। बिज़नेस मैनेजमेन्ट समाधानों में तीन दशकों की विशेषज्ञता और एसएमई की सभी आवश्यकताओं को समझते हुए टैली ने 2 मिलियन से अधिक बिज़नसेज़ की अकाउन्टिंग, इन्वेंटरी, कम्प्लायन्स सबंधी सभी ज़रूरतों को पूरा किया है। 28,000 से अधिक पार्टनर्स के मजबूत नेटवर्क के ज़रिए यह देश के हर कोने में बिज़नसेज़ तक पहुंच रहे हैं। अपने सरल, भरोसेमंद एवं प्रत्यास्थ समाधानों के चलते टैली के सॉफ्टवेयर देश भर में छोटे एवं मध्यम बिज़नसेज़ की पहली पसंद बने हुए हैं। -------------------------------------------------- Tally Solutions

Comments

Popular posts from this blog

फिल्म फेयर एंड फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स रंगारंग कार्यक्रम

फीनिक्स पलासियो में 'एट' स्वाद के शौकीनों का नया रोचक डाइनिंग एक्सपीरियंस

कार्ल ज़ीस इंडिया ने उत्तर भारत में पहले अत्याधुनिक ज़ीस विज़न सेंटर का शुभारंभ