फिजिक्स वाला विद्यापीठ सेंटर्स की संख्या 74 तक पहुंची

फिजिक्स वाला ने पूरे भारत में फिजिक्स वाला नेशनल स्कॉलरशिप कम एडमिशन टेस्ट का दूसरा चरण शुरू किया। इसमें 200 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
लखनऊ : भारत की अग्रणी एडटेक कंपनी फिजिक्स वाला के ऑफ़लाइन सेंटर्स विद्यापीठ की संख्या पूरे भारत के 50 शहरों में 74 तक पहुंच चुकी है। इनका उद्देश्य छात्रों को उनके गृहनगर के करीब ही उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा पहुंचाना है। इससे उन्हें दूसरे शहरों में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हम उनको आसानी से सीखने की हर सुविधा पहुंचाना चाहते हैं। पीडब्ल्यू विद्यापीठों में अपनी ऑफरिंग्स के बारे में जानकारी प्रदान करने के लिए 10 विद्यापीठ सूचना केंद्र और 27 शहरों में 28 पाठशालाएं भी संचालित करता है, जहां हाइब्रिड कक्षाएं चलती हैं। इसके अतिरिक्त, पीडब्ल्यू फिजिक्स वाला नेशनल स्कॉलरशिप कम एडमिशन टेस्ट (पीडब्ल्यूएनसैट) के दूसरे चरण का भी शुभारंभ करेगा, जिसमें 200 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। कक्षा 6 से 12 तक के छात्रों और जेईई या नीट के इच्छुक छात्रों के लिए ऑफ़लाइन और ऑनलाइन मोड में परीक्षाएं कराई जाएंगी। जिसमें सौ फीसदी तक छात्रवृत्ति पाने का मौका है। ये 26 नवंबर से 10 दिसंबर तक (ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड में) आयोजित की जाएंगी। फिजिक्स वाला में विद्यापीठ ऑफलाइन के सीईओ अंकित गुप्ता ने कहा, "हम इस बात के लिए प्रतिबद्ध हैं कि प्रत्येक छात्र को अपने गृहनगर में उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा मिले, जिससे अच्छी एजुकेशन के लिए उन्हें दूर न जाना पड़े। वे आराम से मन लगाकर अपनी पढ़ाई पर ध्यान दे सकें और उनके माता-पिता पर आर्थिक बोझ कम हो सके। इसके अलावा, हमारा लक्ष्य भारत के हर शहर में एडुकेशन सेंटर स्थापित करना है। विद्यापीठों के विस्तार और पीडब्ल्यूएनसैट के दूसरे चरण की शुरुआत के साथ, हम इस लक्ष्य की ओर तेजी से कदम बढ़ा रहे हैं, जिससे छात्रों को दोनों दुनियाओं का सर्वश्रेष्ठ प्रदान किया जा सके। पूरे भारत में शैक्षिक परिदृश्य को बेहतर बनाने के लिए हम दृढ़ हैं।'' पीडब्ल्यू अब पूरे भारत के 76 शहरों में है, जिसमें डेढ़ लाख छात्र हैं। इसके सेंटर्स एक व्यापक कोर्स कराते हैं, जिसमें छात्रों को जेईई/नीट के लिए आवश्यक सभी सामग्री शामिल हैं। पीडब्ल्यू का लक्ष्य अगले साल इन सेंटर्स में ढाई लाख छात्रों का नामांकन करना है। विद्यापीठ तकनीक-सक्षम सेंटर्स हैं, जो रिकॉर्ड किए गए लेक्चर्स, हर छात्र का व्यक्तिगत ध्यान और साथ मिलकर सीखने का माहौल प्रदान करते हैं। इन सेंटर्स में, पीडब्ल्यू छात्रों को भावनात्मक रूप से भी मजबूत बनाने पर जोर देता है। छात्रों के सीखने की प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाने के लिए जरूरी संसाधन उपलब्ध कराता है। विद्यापीठ सेंटर्स में शानदार परिणामों के साथ, पीडब्ल्यू एक क्रांतिकारी शैक्षिक सफर में आगे रहा है। इससे टियर 3 और टियर 4 शहरों में छात्रों के लिए अच्छी गुणवत्ता वाली शिक्षा सुलभ हो गई है।

Comments

Popular posts from this blog

फिल्म फेयर एंड फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स रंगारंग कार्यक्रम

अखिलेश ने मांगा लखनऊ के विकास के नाम वोट

कार्ल ज़ीस इंडिया ने उत्तर भारत में पहले अत्याधुनिक ज़ीस विज़न सेंटर का शुभारंभ