रामसन्स फूड लि. ने लखनऊ सहित पूर्वी उ.प्र. में उतारे अपने प्रोडक्ट्स

- एक हजार युवाओं को रोजगार देगा रामसन्स
लखनऊ । स्वस्थ राष्ट्र निर्माण की दिशा में अग्रणी डेरी कंपनी रामसन्स फूड लिमिटेड ने आज से लखनऊ सहित पूर्वी उत्तर प्रदेश में अपने डेयरी प्रोडक्ट्स बाजार में उतारे। प्रोडक्ट्स लॉन्चिंग के मौके पर रामसन्स फूड लिमिटेड के एम डी अशोक गुप्ता ने बताया कि हम अपने प्रोडक्ट्स की श्रृंखला में देसी घी, स्किम्ड मिल्क पाउडर, देसी कुकिंग बटर को लखनऊ, कानपुर, गोरखपुर, प्रयागराज, वाराणसी, कुशी नगर के बाजारों में बिक्री के लिए उपलब्ध करवा रहें हैं, जो लखनऊ और पूर्वी उत्तर प्रदेश के सभी बड़े शहरों के अधिक से अधिक आउटलेट्स पर उपलब्ध होंगे और निकट भविष्य में 2023-2024 के अंत तक सभी छोटे शहरों और तहसीलों में उप्लब्ध करायेंगे। उन्होने बताया कि रामसन्स फ़ूड लिमिटेड की स्थापना वर्ष 1987 में हुई थी, अपने संचालन के 35 साल के अंदर भारत वर्ष में अपने कारोबार को आगे बढ़ने का कार्य किया है। रामसन्स फ़ूड सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश के 2500 से अधिक गाँवों से सीधे 150000 किसानों से दूध खरीदता है और उस दूध को हम 6 घंटे के अन्तराल के अंदर अपनी प्रोसेसिंग फैक्ट्री में लाकर विश्वस्तरीय क्वालिटी के प्रोडक्ट्स देसी घी, स्किम्ड मिल्क पाउडर, देसी कुकिंग बटर इत्यादि का निर्माण करते हैं। इस अवसर पर रामसन्स फूड लि. के मार्केटिंग हेड अरुण नागर और सेल्स हेड अमित जायसवाल ने बताया कि हम अपने प्रोडक्ट्स में शुद्धता का पूरा ध्यान रखते हैं, घी बनाते समय हाथ का प्रयोग नहीं करते हैं। घी पौस्टिक, ताजे क्रीम से बनाया जाता है, यह 100 प्रतिशत शुद्ध, ताजा है, इसमें किसी भी प्रकार का कोई एिडिटव और प्रेजरवेटिव नहीं मिलाया जाता है। इसकी लाजबाब सुगंध और दानेदार बनावट भोजन के स्वाद को बढ़ाती है, जबकि इसमें कई गुणकारी ओमेगा 3 फैटी एसिड और आवश्यक विटामिन उपलबध है। रामसन्स देसी घी स्वस्थ भैंसों और गायों के स्वच्छ दूध से निर्मित किया जाता है। हमारे अलीगढ़ प्लांट में हमारी विश्वस्तरीय अत्याधुनिक मशीनो की सुविधाएं हमारे इस सपनो को साकार करने में मदद करती हैं। दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में हमारे बिजनेस पार्टनर्स की जबरदस्त प्रतिक्रिया ने रामसन्स फ़ूड लिमिटेड को एक राष्ट्रीय ब्रांड के रूप में विकसित करने के लिए और अपनी विकास योजना की गति को बनाए रखने के लिए प्रेरित किया है। डायरेक्टर अन्नू गुप्ता ने कहा कि रामसन्स फूड लिमिटेड अच्छा डेरी प्रोडक्ट्स हर भारतीय को उप्लब्ध कराने के लिए कृत संकल्प है। उन्होने बताया कि नवम्बर 2022 के अन्त तक रामसन्स फूड लिमिटेड बुलंदशहर के दिबाई क्षेत्र में 5 लाख लीटर दूध की प्रोसेसिंग का संयंत्र शुरु करेगा, और पूर्वी उत्तर प्रदेश में वर्ष 2024 तक 10 लाख लीटर दूध की प्रोसेसिंग का संयंत्र लगायेगा। उन्होने बताया कि भविष्य में पूर्वी उत्तर प्रदेश में रामसन्स फूड लिमिटेड एक हजार युवाओं को रोजगार मुहैया करायेगा। हमारा सूत्र सरल है सर्वोत्तम चारा और पशु चिकित्सा सहायता प्रदान करके हमारे मवेशियों की देखभाल करना, और कड़ी गुणवत्ता जांच के साथ नजदीकी पशु-पालकों से दूध मंगवाना, यह सब पूरी तरह से स्वचालित विनिर्माण इकाइयों द्वारा कार्यरत होता है और यह प्रक्रिया पारदर्शी है। MILK GHEE MILK PAWDER RAM SO FOOD LT.

Comments

Popular posts from this blog

सुपरस्टार रणबीर कपूर की उपस्थित में मॉल लुलु मॉल में 11-स्क्रीन सिनेमा हॉल का शुभारंभ

फिल्म फेयर एंड फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स रंगारंग कार्यक्रम

अखिलेश ने मांगा लखनऊ के विकास के नाम वोट