जीजेसी ने लॉन्च किया शॉपिंग फेस्टिवल- 'इंडिया ज्वेलरी शॉपिंग फेस्टिवल-23'

भारत से बाहर रहने वाले 4 करोड़ एनआरआई अब हर वर्ष आईजेएसएफ के दौरान ज्वेलरी की खरीदी के लिए भारत आ सकते हैं
लखनऊ, ऑल इंडिया जेम एंड ज्वेलरी डोमेस्टिक काउंसिल (जीजेसी), जो कि ज्वेलरी मैन्युफैक्चरर्स, थोक विक्रेताओं, खुदरा विक्रेताओं और निर्यातकों को एकजुट करने वाली सर्वोच्च व्यापारिक संस्था है, ने आज लखनऊ में ज्वेलरी शॉपिंग फेस्टिवल (आईजेएसएफ) के लॉन्च की घोषणा की है। उक्त फेस्टिवल 15 अक्टूबर से शुरू हो चुका है और 22 नवंबर तक चलेगा, जिसका आयोजन देशभर के 300 शहरों में किया जाएगा। डिवाइन सॉलिटेयर्स इस आयोजन का प्रायोजक है। बॉलीवुड अभिनेत्री रिमी सेन ने अपनी गरिमामयी उपस्थिति से लॉन्च कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई, जो हंगामा, धूम 2 और फिर हेरा फेरी जैसी लोकप्रिय फिल्मों के लिए मशहूर हैं। इस फेस्टिवल से सिर्फ बी2बी ही नहीं, बल्कि बी2सी सेगमेंट को भी लाभ पहुँचेगा। व्यवसाय विशेष के मालिक इस फेस्टिवल का हिस्सा बन सकते हैं, जिसके लिए उन्हें नामांकन शुल्क का भुगतान करना होगा और उनके लिए उपलब्ध विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से एक का चयन करना होगा। इसके तहत 25000 रु. की किसी भी खरीदारी पर उन्हें एक सुनिश्चित कूपन और सीमित संस्करण वाला चांदी का सिक्का प्रदान किया जाएगा। 5000 कूपन के प्रत्येक सेट पर विभिन्न शानदार पुरस्कार शामिल हैं, जिसमें से एक पुरस्कार 25 ग्राम सोने का सिक्का है। अन्य उपहारों में 1-1 किलो सोने के 5 पुरस्कार, 10-10 लाख की जड़ाऊ ज्वेलरी के 5 पुरस्कार, 10-10 लाख की टेम्पल ज्वेलरी के 5 पुरस्कार, 5-5 लाख की हीरे और कीमती पत्थर जड़ित ज्वेलरी के 10 पुरस्कार, 2.5 लाख मूल्य के सोने की ज्वेलरी के 10 पुरस्कार और डिवाइन सॉलिटेयर्स की ओर से हीरे जड़ित सोने के सिक्के के 100 पुरस्कार शामिल हैं। श्री सैयाम मेहरा, चेयरमैन, जीजेसी, ने कहा, "आईजेएसएफ को उम्मीद है कि यह 200 से अधिक शहरों से हिस्सा लेने वाले 3000 खुदरा विक्रेताओं के माध्यम से 1,20,000 करोड़ रु. का व्यवसाय उत्पन्न करेगा। मोटे तौर पर यह लगभग 30-35% की व्यावसायिक वृद्धि है। साथ ही, यह भी उम्मीद है कि इस फेस्टिवल के माध्यम से ज्वेलरी इंडस्ट्री में रोजगार के बड़े अवसर उत्पन्न होंगे। हमारे माननीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा की गई डिजिटल इंडिया पहल को ध्यान में रखते हुए, आईजेएसएफ का आयोजन डिजिटल रूप से भी किया जाएगा, जिसका उद्देश्य विजेताओं की चयन प्रक्रिया में पारदर्शिता बनाए रखना है। भारत से बाहर रहने वाले 4 करोड़ एनआरआई को भी इन रोमांचक ऑफर्स का लाभ उठाने का मौका मिलेगा। वे आईजेएसएफ के दौरान ज्वेलरी की खरीदारी की योजना बना सकेंगे, जो भारत को ज्वेलरी का एक पर्यटन केंद्र बनाएगा। जेम एंड ज्वेलरी काउंसिल का अनुमान है कि इस आयोजन में भारी आय क्षमता की गारंटी देने वाली संपूर्ण मूल्य श्रृंखला शामिल होगी। यह आयोजन सिर्फ व्यवसायों को ही प्रोत्साहित नहीं करता है, बल्कि ग्राहकों को भी पुरस्कृत करता है। इसके अलावा, यह स्थापित व्यावसायिक रणनीतियों के साथ प्रतिष्ठित ज्वेलर्स के उपयोग को प्रोत्साहित करके व्यावसायिकता और मानक व्यावसायिक प्रथाओं के पालन को बढ़ावा देता है।" श्री मनोज झा, संयुक्त संयोजक, ने कहा, "पिछले सप्ताह माननीय मंत्री नितिन गडकरीजी ने दिल्ली में आईजेएसएफ के शुभारंभ की घोषणा की। आईजेएसएफ के लिए उनका समर्थन, ज्वेलर्स समुदाय के लिए बेहद उत्साहवर्धक साबित हुआ है और इसके परिणामस्वरूप देश के कोने-कोने से लेकर अंडमान और निकोबार द्वीप समूह तक पंजीकरण देखने को मिल रहे हैं। इस फेस्टिवल के माध्यम से सम्पूर्ण ज्वेलरी इंडस्ट्री के साथ ही साथ ग्राहकों को भी लाभ होगा। आईजेएसएफ आकर्षक ऑफर्स की पेशकश कर रहा है और साथ ही ग्राहकों को पुरस्कार के रूप में 40 किलोग्राम तक सोना जीतने का मौका दे रहा है। इतना ही नहीं, ग्राहक लगभग 3 करोड़ रु. की ज्वेलरी और डिवाइन सॉलिटेयर डायमंड से जड़ित 100 सोने के सिक्के भी जीत सकते हैं। जैसा कि भारत स्वतंत्रता के 75 वर्ष मना रहा है, हम स्मारिका के रूप में लगभग 3000 किलोग्राम विशेष संस्करण अमृत महोत्सव चांदी के सिक्के प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जो 25000 रु. की प्रत्येक खरीद पर ग्राहकों को उपहार के रूप में वितरित किए जाएँगे। नियमित आधार पर 25 ग्राम सोना प्राप्त करने के अतिरिक्त 1 किलोग्राम सोना जीतना काफी रोमांचक होने वाला है। इस मार्केटिंग के माध्यम से इंडस्ट्री को पूरे त्योहारी सीज़न में फायदा होगा। हमने प्रक्रिया सलाहकार ईएंडवाई के साथ साझेदारी की है, जो डिजिटल प्रक्रिया को मॉनिटर करेगा, ताकि पूर्ण पारदर्शिता सुनिश्चित की जा सके।"
डॉ. रवि कपूर, डायरेक्टर- जीजेसी और आईजेएसएफ, एवं कमिटी मेंबर- आईजेएसएफ, ने कहा, "आईजेएसएफ सर्वोत्तम व्यावसायिक प्रथाओं का पालन करेगा, जिसका उद्देश्य पारदर्शिता सुनिश्चित करना और ग्राहकों के मन में इसके प्रति विश्वसनीयता स्थापित करना है। भारतीयों के लिए ज्वेलरी की खरीदी सिर्फ अवसरों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इन्हें निवेश और सुरक्षा की दृष्टि से भी खरीदा जाता है। आगामी इंडिया ज्वेलरी शॉपिंग फेस्टिवल के माध्यम से ग्राहकों को सिर्फ ऑफर्स का लाभ उठाने के ही नहीं, बल्कि लंबे समय तक चलने वाले निवेश के लिए ज्वेलरी की खरीदी के अवसर भी प्राप्त होंगे।" आईजेएसएफ के नियमों और शर्तों के बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया www.ijsfindia.org विज़िट करें। GJC launches India’s largest shopping festival ‘India Jewellery Shopping Festival, 2023’ 4 crores NRI’s residing outside India can now visit India for their jewellery shopping during IJSF every year Lucknow, 18th October 2023: All India Gem and Jewellery Domestic Council (GJC), the apex trade body that unites jewellery manufacturers, wholesalers, retailers, and exporters, announced the launch of Jewellery Shopping Festival (IJSF) in Lucknow today. The festival has commenced on 15th October and will go on till 22nd November and will be held across the country in 300 cities. Divine Solitaires is Powered by sponsor for this event. Bollywood actress Rimi Sen who has starred in popular movies like Hungama, Dhoom 2 and Phir Hera Pheri graced the event with her presence. The festival will offer benefits to both the B2B and the B2C segment wherein business owners can be a part of the festival by paying an enrolment fee and choosing from one of the several subscription plans that are available to them. Any purchase worth Rs 25000 will attract an assured coupon and limited-edition silver coin. There are dazzling rewards like 25 gram gold coin on every set of 5000 coupon. Other giveaways are 5 prizes of 1 kg gold each, 5 prizes of Jadau jewellery worth 10 lakhs each, 5 prizes of temple jewellery worth 10 lakhs each, 10 prizes of diamond and precious stones studded jewellery worth 5 lakhs each, 10 prizes of gold jewellery worth 2.5 lakhs each and 100 prizes of diamond studded gold coin from Divine Solitaires. Mr Saiyam Mehra, Chairman, Chairman GJC, said that, “IJSF is expecting to generate business worth Rs.1,20,000 crore through 3000 retailers participating from over 200 cities. This is a business growth of roughly about 30-35%. The festival is also expected to generate huge employment opportunities in the jewellery industry. Keeping in mind the digital India initiative undertaken by our Hon’ble Prime Minister Narendra Modiji, IJSF will be held digitally as well to maintain transparency in the selection procedure of the winners. 4 cr NRI’s residing outside will also be able to avail of the benefits of exciting offers and plan their jewelry shopping during IJSF making India a jewelry tourism hub. The Gem and Jewellery Council anticipates that the entire value chain will be involved in this event, which guarantees enormous income potential. The event encourages business and rewards customers. Furthermore, it encourages professionalism and adherence to standard business practices by encouraging the use of reputable jewelers with established business strategies.” Mr. Manoj Jha, Joint Convenor, said that, “Last week Hon’ble Minister Nitin Gadkariji announced the launch of IJSF in Delhi. His support for IJSF has generated a lot of excitement in the jewelers community and we are seeing registrations pouring in from nook and corner of the country, right till Andaman & Nicobar islands. The festival will benefit the entire jewellery industry as well as customers. IJSF is making appealing offers and giving customers the chance to win up to 40kg of gold as a prize, as well as jewellery worth approx. 3 crore INR and 100 gold coins encrusted with Divine Solitaire Diamonds. As India celebrates 75 years of independence, we provide approx. 3000 kilogram of special edition Amrit Mahotsav silver coins, as souvenir, which will be delivered as presents to clients with every purchase of Rs.25000/-. It's exciting enough to win 1 kg of gold in addition to receiving 25 grams of gold on a regular basis. The industry would benefit from these marketing all throughout the festive season. We have partnered with process advisor E&Y, who will monitor this entirely digital procedure, to ensure complete transparency.” Dr Ravi Kapoor, Director GJC and IJSF Committee Member, IJSF said, “IJSF will follow best business practices to ensure transparency and build credibility in the minds of the customers. For Indians jewellery is bought not just for occasions but also as investment and security. The upcoming India Jewellery Shopping Festival will give an opportunity to customers to take advantage of the offers and buy jewellery for long-lasting investments.”

Comments

Popular posts from this blog

सुपरस्टार रणबीर कपूर की उपस्थित में मॉल लुलु मॉल में 11-स्क्रीन सिनेमा हॉल का शुभारंभ

फिल्म फेयर एंड फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स रंगारंग कार्यक्रम

अखिलेश ने मांगा लखनऊ के विकास के नाम वोट