आरडीएसओ में 5वीं इनो रेल प्रदर्शनी और अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन- 22 का शुभारम्भ

लखनऊ: इनोरेल प्रदर्शनी रेलवे क्षेत्र के सभी स्टॉकहोल्डरों के लिए वैश्विक स्तर एक प्रभावी व्यापार नेटवर्किंग हेतु एक छत के नीचे आने का एक अनूठा मंच है। इसके अलावा, यह नवीनतम तकनीकी प्रगति, नवाचारों, संबंधित उत्पादों और तकनीकी सेवाओं को प्रदर्शित करता है और भारतीय रेलवे इकाइयों को उनकी भविष्य की आवश्यकताओं, दृष्टि और नवाचारों को प्रदर्शित करने का अवसर प्रदान करता है। इनोरेल प्रदर्शनी और अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का पहला संस्करण वर्ष 2014 में आयोजित किया गया था और उसके बाद से हर दो साल में एक बार लगातार आयोजित किया जा रहा है।
पांचवां संस्करण आरडीएसओ स्टेडियम में 17 से आयोजित किया जा रहा है। इस आयोजन में 125 से अधिक भारतीय और विदेशी देशों के नवीनतम रेलवे उत्पादों और प्रौद्योगिकियों से जुड़े उद्योग अपने उत्पादों का प्रदर्शन कर रहे हैं। महानिदेशक, आरडीएसओ संजीव भूटानी ने 17 नवंबर-2022 को 5वीं इनोरेल प्रदर्शनी और अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का उद्घाटन किया। उन्होंने उद्घाटन समारोह में दीप प्रज्ज्वलित किया और इनोरेल प्रदर्शनी सूची के 5वें संस्करण का उद्घाटन किया। थिएरी लैसस, उपाध्यक्ष और प्रमुख उद्योग नेटवर्क, हिताची, स्विट्जरलैंड ने भारतीय रेलवे की प्रशंसा की और कहा कि इसमें लोकोमोटिव के क्षेत्र में गहन योगदान करने की क्षमता है और भविष्य में टिकाऊ ऊर्जा के बारे में भी बात की। श्री सुशील कुमार, एमडी, यूपीएमआरसी ने यूपीएमआरसी की उपलब्धियों के बारे में बात की और कहा कि मेट्रो सेवाओं में इसकी पूर्णता सबसे तेज है। रेलवे बोर्ड के एएम/आरएस श्री अतुल गुप्ता ने यह भी कहा कि आत्मनिर्भर भारत के मिशन को पूरा करने के लिए अधिक व्यवसायियों को आमंत्रित किया जा रहा है एवं उन्होंने यूवीएएम पोर्टल की उपयोगिता के बारे में भी चर्चा की। मुख्य अतिथि श्री संजीव भूटानी, डीजी और आरडीएसओ ने रेलवे बोर्ड और उद्योग जगत के वरिष्ठ अधिकारियों का स्वागत किया और अपने संबोधन में आरडीएसओ की हालिया उपलब्धियों और इसकी चल रही परियोजनाओं के बारे में बताया। उन्होंने भारतीय रेलवे के लिए विक्रेता आधार बढ़ाने के लिए आरडीएसओ द्वारा की गई पहलों के बारे में भी बताया। ईडी/रिसर्च, श्री अमित श्रीवास्तव ने प्रदर्शनी में आने के लिए सभी गणमान्य व्यक्तियों, वक्ताओं और मीडियाकर्मियों को धन्यवाद दिया। इस प्रदर्शनी में आरडीएसओ ने अपना स्टॉल भी लगाया है और इस स्टॉल में रोलिंग स्टॉक के कई लघु मॉडल रखे गए हैं। इसके अलावाइस स्टॉल में हाल ही में आरडीएसओ की उपलब्धियों को पोस्टरों के माध्यम से प्रदर्शित किया गया है एवं पैम्फलेट और हैंडआउट के माध्यम से संभावित विक्रेताओं के लिए अद्यतन जानकारी और दिशानिर्देश भी उपलब्ध करायी गयी है। अन्य रेलवे के 50 से अधिक आगंतुकों ने भी प्रदर्शनी का दौरा किया और नवीनतम तकनीकी प्रगति की जानकारी ली। डीजी, आरडीएसओ ने प्रदर्शनी में कंपनी के 20 स्टॉलों का दौरा किया और उन प्रौद्योगिकियों के बारे में जानकारी ली जिन्हें भारतीय रेलवे द्वारा अपनाया जा सकता है।
इस प्रदर्शनी में हाई स्पीड रेल, अर्बन मास और इंटेलिजेंट ट्रांसपोर्टेशन, और भारत में बुलेट और हाई स्पीड ट्रेनपर विशेष ध्यान दिया जाएगा एवं सेमी हाई स्पीड ट्रेन, ट्रैफिक ऑप्टिमाइजेशन के लिए आधुनिक तकनीक/प्रौद्योगिकियां और स्मार्ट रोलिंग स्टॉक आदि जैसे क्षेत्रों पर विभिन्न सेमिनार और तकनीकी चर्चाएं भी होंगी। ये तकनीकी सेमिनार 18.11.2022 से शुरू होंगे। प्रदर्शनी शनिवार, 19 नवंबर तक चलेंगी। यह आयोजन एमएसएमई एवंछोटे पैमाने के उद्यमियों के लिए फायदेमंद हो सकता है और उद्योग, अकादमिक अनुसंधान संस्थानों के लोगों के लिए एक सुनहरा अवसर है जो भारतीय रेलवे के साथ जुड़ें। रेलवे के क्षेत्र में नई और उभरती तकनीकी प्रगति का पता लगाने के लिए औद्योगिक व्यक्तियों और आम जनता सहित बड़ी संख्या में आगंतुकों से प्रदर्शनी देखने का अनुरोध किया गया है। RDSO LUCKNOW SANJEEV BHUTANY

Comments

Popular posts from this blog

फिल्म फेयर एंड फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स रंगारंग कार्यक्रम

फीनिक्स पलासियो में 'एट' स्वाद के शौकीनों का नया रोचक डाइनिंग एक्सपीरियंस

कार्ल ज़ीस इंडिया ने उत्तर भारत में पहले अत्याधुनिक ज़ीस विज़न सेंटर का शुभारंभ