साइटसेवर्स और ऑरेकल ने दृष्टि-विकारों से पीड़ित बच्‍चों के लिए शिक्षा से सकारात्‍मक और सक्षम वातावरण को बढ़ावा देने से ठबंधन

साइटसेवर्स और ऑरेकल ने दृष्टि-विकारों से पीड़ित बच्‍चों के लिए शिक्षा के माध्‍यम से सकारात्‍मक और सक्षम वातावरण को बढ़ावा देने के उद्देश्‍य से किया गठबंधन
साइटसेवर्स ने ऑरेकल इंडिया के साथ मिलकर, देशभर में विभिन्‍न स्‍थानों पर समावेशी शिक्षा परियोजना का शुभारंभ किया है। इस समावेशी शिक्षा परियोजना को उत्‍तर प्रदेश, झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार तथा छत्‍तीसगढ़ के छह जिलों – सीतापुर, देवगढ़, कालाहांडी, बांकुरा, गया तथा बलौदा बाजार में लागू किया जाएगा। इस परियोजना का उद्देश्‍य दृष्टिविकारों बच्‍चों के लिए सामुदायिक स्‍तर पर भागीदारी, जागरूकता और सरकारी तंत्र को मजबूत बनाकर लर्निंग के परिणामों में सुधार लाना है। इसके चलते एक हजार से अधिक उन बच्‍चों को लाभ पहुंचेगा जो दृष्टिविकारों से पीड़ित हैं और साथ ही, 205 प्रशिक्षकों, 775 सामान्‍य शिक्षकों/संसाधन शिक्षकों एवं 936 अभिभावकों तथा सोशल एनीमेटर्स को नेत्रहीन बच्‍चों की शिक्षा को सपोर्ट करने के तौर-तरीकों का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। साइटसेवर्स इंडिया विकास के लिए समर्पित संगठन है जो आंखों की सेहत, समोवशी शिक्षा तथा सामाजिक समावेशन जैसे तीन आधारभूत क्षेत्रों में कार्यरत है। समावेशी शिक्षा परियोजना के तहत्, साइटसेवर्स नेत्रहीनों या दृष्टिविकारों से पीड़ित बच्‍चों के लिए समुचित टैक्‍नोलॉजी, सहायक सामग्री (जैसे ब्रेल शैक्षिक सामग्री, टैब्‍स आदि) तथा लो विज़न डिवाइसेज़ जैसे टूल्‍स उपलब्‍ध कराता है जिनकी मदद से ये बच्‍चे अधिकाधिक आत्‍मनिर्भर बनते हैं और उन कार्यों को भी करने में सक्षम होते हैं जिन्‍हें पूरा करना पहले उनके लिए असंभव था। दृष्टिविकारों से पीड़ित बच्‍चों को साइटसेवर्स के दृष्टिकोण से सहायता मिलती है जिसमें बच्‍चों पर केंद्रित हस्‍तक्षेप, सिस्‍टम को मजबूत बनाना और एक समर्थ बननो वाले वातावरण का निर्माण शामिल है।
आर एन मोहंती, सीईओ, साइटसेवर्स ने कहा, ''हम ऑरेकल के सहयोग से साइटसेवर्स के लिए समावेशी शिक्षा परियोजना का शुभारंभ करते हुए बेहद खुशी महसूस कर रहे हैं। इस परियोजना को देश के छह जिलों में एक साथ लागू किया जा रहा है। हमारा प्रमुख ज़ोर समावेशी शिक्षा पर रहेगा जिसके तहत् हम विकलांग बच्‍चों, खासतौर से दृष्टिविकारों से पीड़ित बच्‍चों के लिए पढ़ने और सीखने के बेहतर अवसर उपलब्‍ध हों और वे भी दूसरे बच्‍चों की तरह जीवन बिता सकें। इस दृष्टि से यह परियोजना साइटसेवर्स के लिए काफी महत्‍वपूर्ण है और मैं पूरी प्रक्रिया के दौरान ऑरेकल के सहयोग का अत्‍यंत आभारी हूं।'' विकलांगता से प्रभावित कर्मचारियों को आत्‍मनिर्भरता तथा समान एक्‍सेस का लाभ दिलाते हुए सशक्‍त बनाकर ही ऑरेकल खुद को मजबूत बनाने में सक्षम है। सुश्री रिया बख्‍शी, सीनियर मैनेजर, ऑरेकल गिविंग एंड सोशल इंपैक्‍ट, ऑरेकल ने कहा, ''ऑरेकल में हमारा यह दृढ़ विश्‍वस है कि समान एक्‍सेस का मतलब है समान अवसर सुलभ कराना। हम दृष्टिविकारों से ग्रस्‍त लोगों के लिए समान एक्‍सेस एवं आत्‍मनिर्भरता को बढ़ावा देने के साइटसेवर्स इंडिया के प्रयासों में सहयोग करते हुए गर्व महसूस करते हैं। समावेशी लर्निंग प्रोजेक्‍ट वास्‍तव में, भारत के कुछ अत्‍यंत कम सुविधाप्राप्‍त जिलों में कमजोर बच्‍चों के लिए महत्‍वपूर्ण लर्निंग अनुभवों को उपलब्‍ध कराने का माध्‍यम है, और इस पहल से जुड़कर लोगों के जीवन को बेहतर बननो के लिए योगदान करना हमारे लिए सम्‍मान का विषय है।''

Comments

Popular posts from this blog

फिल्म फेयर एंड फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स रंगारंग कार्यक्रम

कार्ल ज़ीस इंडिया ने उत्तर भारत में पहले अत्याधुनिक ज़ीस विज़न सेंटर का शुभारंभ

फीनिक्स पलासियो में 'एट' स्वाद के शौकीनों का नया रोचक डाइनिंग एक्सपीरियंस