धब्बों, कालेपन और झाइयों को रोकने में कारगर एंटीऑक्सीडेंट गामा ओरिज़नोल

धब्बों, कालेपन और झाइयों को रोकने में कारगर एंटीऑक्सीडेंट गामा ओरिज़नोल लखनऊ। बढ़ती उम्र के साथ षरीर पर पड़ने वाले धब्बों, कालेपन और झाईयों से जल्द दिखने वाले बुढ़ापे के लक्षणों को रोका जा सकता है। जी हां यह सच है देष के जाने वाले चिकित्सकों की माने तो प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट के नियमित प्रयोग से ऐसा किया जा सकता है। भारत में सप्लीमेंट के तौर पर उपलब्ध प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट गामा ओरिजनोल मुख्यरूप से 1960 के दशक में गामा ओरिज़नोल को जापान में इस्तेमाल किया जाता था। एंटीऑक्सीडेंट से मिलने वाले लाभ को लेकर मेंदाता के त्वचा रोग विशेषज्ञ विभाग के सीनियर त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ. रमनजीत सिंह का कहना है खान-पान और सोने की आदतों का सीधा प्रभाव हमारी त्वचा पर पड़ता है और खूबसूरत त्वचा के लिए ऑक्सीडेटिव तनाव को नियंत्रित करना बेहद महत्वपूर्ण है। यह प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट के सही व नियमित इस्तेमाल से संभव हो सकता है क्योंकि प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट त्वचा की बनावट यानि कि रचना में सुधार करता है और यह कोलेजन के दोबारा विकास में मदद करता है। यह प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट सीबाकेशियस ग्रंथियों की फिर से बनाता है, जो त्वचा के ऊपर सुरक्षात्मक ढांचा बना लेती है। इससे त्वचा पर जल्दी बुढ़ापा नहीं आता। प्राकृतिक एंटी ऑक्सीडेंट में गामा ओरिज़नोल सबसे बेहतरीन है। वहीं नई दिल्ली के मैक्स सुपर स्पेशलियटी अस्पताल की सीनियर त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ. मंजू केसरी ने बताया,”प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को खूबसूरत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हाल ही में भारत में लोकप्रियता बटोर रहा प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट गामा ओरिज़नोल चावल के भूसे से निकाला जाता है और इसे सप्लीमेंट के रूप में लेने पर कई फायदे है। इसके एंटीऑक्सीडेंट गुणों के कारण इसे कॉस्मेटिक में इस्तेमाल किया जाता है। गामा ओरिज़नोल एक्सट्रेक्ट में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, इसलिए इसे जापानी दवाइयों में तनाव और मेनोपॉज के लिए उपयोग में लाया जाता है। अध्ययनों से पता चलता है कि यह बेहतर मूड, बेहतरनर्वस सिस्टम, सेहतमंद दिल, तनाव कम करने, इम्यूनिटी बढ़ाने और अच्छी नींद के लिए बेहतरीन है। स्किनकेयर उत्पादों में गामा ओरिज़नोल का प्रयोग किया जाता है। दरअसल यूवी किरणे और धुआं,मेलानिन सिंथेसिस (त्वचा में कालापन) जैसे फ्री रेडिकल्स को बनाता है, लेकिन गामा ओरिज़नोल यूवी किरणों और धुएं के खिलाफ सुरक्षा कवच बनाकर त्वचा को स्वस्थ रखता है। गामा ओरिज़नोल सीबम ग्लेंड्स को सक्रिय करता है, जो त्वचा के सूखेपन को कम करने में मदद करता है। जापानी महिलाओं की नर्म और हाइड्रेट त्वचा का यही राज़ है। इसमें यूवी-ए और यूवी-बी किरणों को अवशोषित करने की क्षमता है और इसी वजह से इसे सूरज की किरणों से सुरक्षा देने वाले उत्पादों में उपयोग करने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। इसमें त्वचा के गिरते प्रभाव की प्रक्रिया को कम करने की क्षमता है।

Comments

Popular posts from this blog

सुपरस्टार रणबीर कपूर की उपस्थित में मॉल लुलु मॉल में 11-स्क्रीन सिनेमा हॉल का शुभारंभ

फिल्म फेयर एंड फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स रंगारंग कार्यक्रम

अखिलेश ने मांगा लखनऊ के विकास के नाम वोट