पर्यटन में इनोवेटिव मॉडल्स से स्टार्टअप्स को बढ़ावा - मंत्री जयवीर सिंह

लखनऊ। यूपी इंटरनेशनल ट्रेड एक्सपो के तीसरे दिन इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री जयवीर सिंह ने मेकिंग यूपी द यूनिकॉर्न हब ऑफ इंडिया सत्र का उद्घाटन किया। ट्रेड एक्सपो की सराहना करते हुए कहा कि टूरिज्म में इनोवेटिव मॉडल्स से स्टार्टअप्स को बढ़ावा दिया जा रहा है और पर्यटन के साथ उद्योग तथा व्यवसाय जुड़ने से उत्तर प्रदेश को नई पहचान व ताकत मिलेगी।
पीएचडी चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के सेक्रेटरी जनरल सौरभ सान्याल ने कहा कि यद्यपि यूपी में पहली बार इंटरनेशनल ट्रेड एक्सपो हो रहा है लेकिन व्यापारियों तथा उद्यमियों ने इसको बहुत सराहा है। पीएचडी चैम्बर अगला ट्रेड एक्सपो उत्तराखंड में करने जा रहा है। बड़ी स्वदेशी कम्पनियों ने आगे होने वाले ट्रेड एक्सपो में साथ देने की बात कही है और रोजाना लगभग 25 लोग इस एक्सपो को देखने आ रहें हैं। पीएचडी चैम्बर के डिप्टी सेक्रेटरी जनरल डॉ रंजीत मेहता ने कहा कि देश भर में सबसे ज्यादा लगभग 90 लाख एमएसएमई उत्तर प्रदेश में हैं जिनको सही प्लेटफार्म देने का काम यह ट्रेड एक्सपो कर रहा है। जब बड़ी स्वदेशी कम्पनियां, एमएसएमई और स्टार्टअप्स एक छत के नीचे जमा होते हैं तो उसका फायदा सबको होता है। पीएचडी चैम्बर के एसिस्टेंट सेक्रेटरी जनरल डॉ जितेन्द्र सिंह ने कहा कि यूपी सरकार की वन ट्रिलियन एकानॉमी बनाने के सपने को पूरा करने के लिए स्टार्टअप्स को आगे बढ़ाना बहुत जरूरी है और यह आयोजन यूपी को स्टार्टअप्स का हब बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। “एक्सपो ने दूसरे दिन 25,000 से अधिक आगंतुकों को आकर्षित किया, जो पहले दिन 10,000 से अधिक था। एक्सपो ने बिजनेस-टू-बिजनेस और बिजनेस-टू-कंज्यूमर सेगमेंट दोनों के लिए कई तरह के आकर्षण पेश किए।” उसने जोड़ा। UPITEX उत्तर प्रदेश का एक मेगा ट्रेड और कंज्यूमर एक्सपो है। एक्सपो विभिन्न क्षेत्रों जैसे ऑटोमोबाइल, हस्तशिल्प, फैशन, निर्माण सामग्री, खाद्य और कृषि उत्पाद, आभूषण, गृह सज्जा और अन्य से उत्पादों और सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदर्शित करेगा। एक्सपो MSME विकास, महिला उद्यमिता जैसे विषयों पर विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों, सेमिनारों और कार्यशालाओं की भी मेजबानी करेगा और STARTUP पारिस्थितिकी तंत्र के लिए भी एक बड़ा आकर्षण है। UPITEX का उद्देश्य उत्तर प्रदेश में व्यापार और वाणिज्य को बढ़ावा देना और बड़े निवेश को आकर्षित करना है, जिसने 2027 तक 1 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य निर्धारित किया है। ---------------------------------------------------------- UPITEX

Comments

Popular posts from this blog

फिल्म फेयर एंड फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स रंगारंग कार्यक्रम

फीनिक्स पलासियो में 'एट' स्वाद के शौकीनों का नया रोचक डाइनिंग एक्सपीरियंस

कार्ल ज़ीस इंडिया ने उत्तर भारत में पहले अत्याधुनिक ज़ीस विज़न सेंटर का शुभारंभ